प्यार कैसे करते हैं - How To Love In Hindi

आज हम बताएंगे प्यार कैसे करते हैं?(pyar kaise karte hain) प्यार एक अनुभव है एहसास है जिसे हम किसी शब्द या किसी वस्तु से नहीं बता सकते हैं। प्यार शब्द देखने में एक छोटा शब्द है लेकिन इसके अर्थ सिर्फ अनुभव से ही पता चलते हैं। हर इंसान किसी ना किसी से प्यार करता है वह अपनी मां से भी प्यार करता है और अपने हमसफर से भी प्यार करता है। प्यार का अर्थ सभी लोगों की नजर में अलग अलग होता है। 

    जैसे एक मां का प्यार अपने बेटे के लिए हो या किसी व्यक्ति का प्यार अपने हमसफर के लिए हो दोनों जगह पर प्यार तो है पर दोनों प्यार का अनुभव अलग-अलग है। प्यार का अर्थ विश्वास और अनुभव भी हो सकता है जो आपका प्यार किसी के प्रति दिखाता है। प्यार को हर व्यक्ति अपने जीवन में एक बार अनुभव जरूर करता है उसके साथ ही वह अनुभव करके प्यार का मतलब समझता है। प्यार हमें खुशी महसूस कराता है। प्यार सभी करते हैं और सबके करने का अंदाज भी अलग होता है।

    pyar-kaise-karte-hain

                      pyar kaise karte hain

    प्यार कैसे किया जाता है How To Love In Hindi

    प्यार एक ऐसी चीज है जो हर कोई करता है वह अपने परिवार से पार्टनर से पालतू जानवर से प्राकृतिक से यहां तक कि खुद से भी करता है। प्यार के साथ ईमानदारी विश्वास भी शामिल होता है जो उनके रिश्तो को काफी मजबूत बनाता है। प्यार ही मनुष्य को एक दूसरे से बांध कर रखता है और हमेशा एक दूसरे पर निर्भर करता है। और दुनिया को खूबसूरत बनाता है। सच्चा प्यार हमें खुशी का अनुभव कराता है। 

    जब हम किसी से प्यार करते हैं तो हम सोचने लगते हैं कि उस पर हमारा पूरा अधिकार है। हम उसके साथ कुछ भी कर सकते हैं। तो हमारा ऐसा सोचना गलत है क्योंकि प्यार एक अनुभव होता है एक दूसरे की इज्जत करना एक दूसरे की फीलिंग समझना और एक दूसरे को समझना ही प्यार होता है।
    अब आगे हम बताएंगे कि एक दूसरे से प्यार कैसे करते हैं।

    1. अपने आप से प्रेम करें (pyar kaise karte hain) 

    किसी दूसरे से प्यार करने से पहले खुद से प्यार करना चाहिए क्योंकि खुद से प्यार जो करता है। उसी से सभी प्यार करते हैं खुद से प्यार करने का अर्थ है खुद के गुणों को निकालना खुद को अच्छा बनाना खुद को ऐसा बनाना जिससे लोग आप पर भरोसा करें। 

    जब तक आप खुद से प्यार नहीं करेंगे तब तक दूसरे लोग आपसे प्यार नहीं करेंगे। आप अपने आप को खुश रखने की कोशिश करें जो व्यक्ति खुश रहते हैं लोग भी उन्हीं के पास रहना पसंद करते हैं। अपने आप से प्यार करना दूसरों से प्यार करने में बहुत फर्क होता है। जब तक आप खुद की अहमियत नहीं समझते हैं तब तक लोग आपकी अहमियत नहीं समझेंगे।

    2. प्यार मे ईष्या ना लाए

    जब आप किसी के बारे में अच्छी बातें सुनते हैं तो आपको उसके प्रति इष्या हो जाती है। उनमें से बहुत बार आपसे प्यार करने वाले या फिर आप हमसे प्यार करने वाले होते हैं। पर यह प्यार  में बदल जाता है।यह ईष्या की भावन अधिकतर हमें तब महसूस होती है जब अपने जीवन की स्थिति से हम खुश नहीं रहते हैं। 

    लेकिन सच्चे प्यार में हमें एक दूसरे से ईष्या नहीं करनी चाहिए एक दूसरे के खुशी पर खुश होना चाहिए अगर आप किसी से सच्चा प्यार करते हैं। आपको उसकी खुशी का ध्यान रखना चाहिए। और अपने ईष्या को उससे नहीं मिलाना चाहिए। इसलिए प्यार करने के लिए जरूरी है कि आप उनके दुख और सुख दोनों में साथ खड़े रहे।

    3. दिल खोल कर अपनी बात कहे। (pyar kaise karte hain)

    प्यार में दिल खोलकर बातें करना बेहद जरूरी होता है समय-समय पर हमें अपने साथी से प्यार का इजहार करते रहना चाहिए। इसे आप चाहे तो  I love you❤ शब्द का प्रयोग भी कर सकते हैं। 

    और फिर उसकी जो भी बातें अच्छी लगती हैं उसके बारे में भी बात कर सकते हैं उसके आदतें या फिर आपको उसके बारे में जो भी अच्छा लगता है उसकी प्रशंसा आप शब्दों से कर सकते हैं। इससे आपकी फीलिंग और भावनाएं सामने वाले को समझ में आएंगे। इसलिए अपने भावनाओं को अपने साथ के साथ व्यक्त करना बेहद जरूरी होता है इससे आपका प्यार(pyar) और गहरा होता है।

    4. अपने साथी को टाइम दे।

    अपने प्यार के रिश्ते को गहरा बनाने के लिए अपने साथी के साथ टाइम बिताने चाहिए। जब आप दोनों साथ हो तो एक दूसरे को पूरा टाइम दें अपने साथी को अच्छा महसूस कराएं इससे आपके रिश्ते में खुशहाली आएगी आप हमेशा अपने साथी को यह एहसास दिलाते रहे कि आप उसकी कितनी फिक्र करते हैं। और आप उनसे कितना प्यार करते हैं।

    5. अपने साथी की बात सुने (pyar kaise karte hain) 

    जब आप अपने साथी के साथ रहते हैं तब अपना ध्यान इधर-उधर के बजाए अपने साथी के बात को सुनने में लगाएं शायद आप नहीं जानते होंगे कि आपका उनकी  बात ना सुनना उन्हें कितना दुखदाई लगता है। 

    चाहे आपको उनकी बातों में मजा ना आ रहा हो फिर भी उनकी बातें सुने उनकी खुशी के लिए और उनकी बातों का जवाब भी दें इससे उन्हें खुशी मिलेगी। क्योंकि यह वही लोग हैं जो आपसे प्यार करते हैं और आपके लिए मायने रखते हैं इसलिए आपको उनकी परवाह होनी चाहिए।

    pyar-kaise-karte-hain (प्यार कैसे करते हैं।) 

    एक टिप्पणी भेजें

    2 टिप्पणियाँ